Sunday, 26 May 2019

रिंगो एप Ringo App



रिंगो एप Ringo App


यह एक ऐसा एप है जो काफी कम कीमत पर आपको अंतरराष्ट्रीय काॅलिंग सुविधा प्रदान करता है। इसके द्वारा की गई काॅल की कीमत इतनी कम है कि आपको यह मुफ्त काॅल की तरह ही लगेगी। कंपन से मिली सूचना के अनुसार यह एप दुनिया भर के 16 देशों में उपलब्ध है कंपनी यह दावा करती है।


 कि इस एप से की गई काॅल से ग्राहक को कम स कम 90 % की बचत होती है। वे ग्राहक जो दिन भर अंतरराष्ट्रीय काॅल करने को इच्छुक होते है औऱ साथ ही भारी कीमत खर्च होने से परेशान भी है, यह रिंगो एप उन्ही लोगों के लिए बना है। अब चाहे कोई ग्राहक अपने परिवार वालो से या फिर बिजनेस मीटिंग के लिए घंटो इस एप से बात करे, उसे काॅल शुल्क काफी कम लगेगा। जैसा कि हम ने पहले भी बताया, रिंगो एप आपके मोबाइल के इंटरनेट डेटा या वाई-फाई डाटा को इस्तेमाल नहीं करता है



 यह केवल आपके फोन के नेटवर्क पर चलता है जैसे आप किसी को भी काॅल मिलाने के लिे इस्तेमाल करते है। यह खास एप आपके द्वारा मिलाए गए अंतराष्ट्रीय काॅल को अपने आप लोकल काॅल शुल्क दर में तब्दील कर देगा। इसके फलस्वरूप आपको अंतरराष्ट्रीय काॅल पर बात करते समय कम से कम 70% की बचत होगी। कंपनी ने बताया कि इस एप द्वारा खर्च हो रहे शुल्क की यदि वोडाफोन और एयरटेल के शुल्क दर से तुलना की जाए तो यह आपको अंतरराष्ट्रीय काॅल पर तकरीबन 70 % की बचत देता है।

  इसके साथ ही यह संख्या पर नजर डालें तो यदि आप रिंगो एप से अमेरिका में काॅल मिलाएंगे तो आपको 1.08 रू प्रति मिनट शुल्क लगेगा। इसके अलावा सिंगापुर, थायलैंड और मलेशिया का शुल्क 2.69 रू प्रति मिनट है।


एवरनोट स्कैनेबल एप

नोट-मेकिंग के लिए पाॅपुलर एप एवरनोट ने आईफोन और आईपैड डिवाइस के लिए स्कैनेबल एप लांच किया है। इस एप की मदद से आप बिजनेस कार्डस के अलावा, दूसरे अन्य डाॅक्यूमेंट्स को भी आसानी के स्कैन कर सकते है स्कैन करने के बाद आप एप की मदद से डाॅक्यूमेंट को क्लीन, क्राॅप आदि कर सकते हैं। स्कैन डाॅक्यूमेंट को यूजर्स एवरनोट अकाउंट, आईक्लाउड आदि से सेव कर सकते हैं यह फिर ईमेल या मैसेज के जरिए शेयर भी कर सकते है।



जिमन एप

देश में महिलाों व बच्चो के खिलाफ बढ़ रहे क्राइम को देखते हुए एक आइटी कंपनी ने एक नया मोबाइल एप्ल जिमन  लांच किया है। कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर, प्रमोद राव ने प्रेस कांफ्रेस में बताया, दिन-ब-दिन ब़ढ़ते अपराध को देखते हुए जिकाॅम इलेक्टाॅनक सिक्योरिटी सिस्टम  लिमिटे़ड ने अनुठा मोबाइल एप्लीकेशन बनाया है, जो 24 गुणा 7 रेस्पांस सर्विस उपलब्ध तो कराएगा ही साथ ही उनके परिजनों तक सूचना भी पहुंचाएगा।

एक प्रेस रिलीज में कंपनी ने दावा किया है कि इमरजेंसी के दौरान यूजर को इस एप्लीकेशन को एक्टिवेट करने के लिए अपने स्मार्ट फोन पर केवल पांच बार पावर बटन दबाना होगा औऱ मात्र 5 सेकेंड में यह एक्टिवेट हो जाएगा। इसके एक्टिवेट होते ही आपके इमरजेंसी कटैक्सटस को मदद की मांग के साथ अलर्ट मिलेगा। यहां तक की दुर्घटना के बाद जिमन एक इमरजेंसीी मैप भी उपलब्ध कराएगा जिसमे उस स्थल ने नजदीक मौजूद इमरजेंसी सर्विस भी बताएगा।

 

Saturday, 18 May 2019

window ko apne aap reinstall hone se kaise roke


विंडोज को अपने आप रिइंस्टाल होने से कैसे रोकें

 

जब भी आप अपने सिस्टम में कोई अपग्रेड इंस्टाल करते हैं तो उसके बाद सिस्टम अपने आप रिस्टार्ट होता है। आप चाहें तो किसी भी अपग्रेड के इंस्टाल होने के बाद सिस्टम को अपने आप रिबूट होेने से रोक सकते हैं। इसके लिए आपको विंडोज को अपने आप रिबूट होने की कमांड देने वाले Key को डिलीट करना होगा। इसके लिए भी सबसे पहले Regedit को लांच करें। और HKEY_LOCAL_MACHINE/Software/Policies/Microsoft/Windows तक निवेगेट करें।


window ko apne aap reinstall hone se kaise roke
window ko apne aap reinstall hone se kaise roke


आप एक नई key बनाएं जिसका नाम WpndowsUpdate/AU होगा। अब इसके बाद आपको एक नई वैल्यू बनानी होगी, जो NOAuto RebootWithLoggedOnUsers होगा और इसे एक वैल्यू दें। इसके बाद आप  कोई भी अपग्रेड करेंगे तो सिस्टम रिस्टार्ट नहीं होगा।



 
window ko apne aap reinstall hone se kaise roke
window ko apne aap reinstall hone se kaise roke





window ko apne aap reinstall hone se kaise roke
window ko apne aap reinstall hone se kaise roke





 
window ko apne aap reinstall hone se kaise roke
window ko apne aap reinstall hone se kaise roke

 window ko apne aap reinstall hone se kaise roke
इसके अलावा भी ढेर सारी चीजें हैं, जो आप रजिस्ट्री और कमांड  प्राम्प्ट्स के जरिए कर सकते हैं। मिसाल के तौर पर सेंड टू मेनू को कस्टमाइज कर सकते हैं या मेनू के साथ ओपन होने वाले यानी ओफन विंड मेनू के आइटम को कम कर सकते हैं, किसी खास समय में किसी यूजर को कोई फाइल या फोल्डर एक्सेस करने से रोक सकते हैं, जब आप विंडोज में लाॅग करते है उस समय आप चाहें तो रिमांडर मैसेज हासिल कर सकते हैं। ऐसे ढेर सारे काम हो सकते हैं। बस आपको हिचक छोड़ कर रजिस्ट्री के साथ दोस्ती करनी होगी।

Wednesday, 15 May 2019

Android phone ke liye konsa ka antivirus achha hai


एंड्रायड फोन्स के लिए कौन सा एंटीवायरस अच्छा है

वायरस, मैलवेयर आदि केवल पीसी, लैपटाॅप आदि को ही अपना शिकार नहीं बनाते हैं बल्कि इंटरनेट उपयोग करने वाले स्मार्टफोन आदि भी उसकी चपेट मेें आ सकते है। इसलिए सुरक्षा को ध्यान में रखकर विश्वविख्यात Quickheel  ने मोबाइल के लिए सिक्यूरिटी स्यूट बनाया है। वैसे तो यह कई प्लेटफार्म में उपलब्ध है किंतु एंड्रायड की बढ़ती लोकप्रियता के चलते एंड्रायड (Android) बेस्ड डिवाइसेस के लिए यह विशेष उपयोगी है


इस एप को गूगल प्ले स्टोर के साथ साथ डेवलपर की वेबसाइट से भी डाउनलोड कर सकते हैं। इंस्टाॅलेशन के उपरांत आपको एक की विस्तृत प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। रजिस्टर करने औऱ अपना Serial number देने के बाद एप एक्टिवेट होता है और आपको दो पेजो में विभक्तहोम स्क्रीन पर ले जाता है।



Android phone ke liye konsa ka antivirus achha hai
Android phone ke liye konsa ka antivirus achha hai



पहली स्क्रीन महत्वपूर्ण भाग है जिसमे Call Block, sms block, anti theft, virus protection  है तो दूसरी स्क्रीन पर Performance moniter, network moniter, backup तथा वेब security। एंटी थेफ्ट या बैकअप जैसे फीजर्स को एक्सेस करने के लिए रजिस्ट्रेशन के उपरांत लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़़ता है। और Learn tip and trick in hindi


QuickHeel (क्विकहील) का डिजाइन सामान्य है और इसकी मेन्यू इंटरफेस काफी बेहतर काम करता है क्योंकि इसे सरलता से समझा जा सकता है। इसके काॅल और मैसेज फिल्टर्स अनचाही काॅल्स और मैसेज को ब्लाॅक करने में मदद करता है जबकि सेफ ब्राउजिंग फीचर्स मैलवेयर युक्त वेब पेजो और फिशिंग गतिविधियों में डिवाइसेसे की रक्षा करते है। पेरेन्टल कंट्रोल फीचर प्रतिस्पर्धा में कड़ी टक्कर देता है। अपने बैकअप फीचर्स की मदद से क्विकहील आपके समूचे फोन डाटा के बैकअप एसडी कार्ड या क्लाउड स्टोरेज पर रखने में सहायता करता है। एंटी थेफ्ट डिवाइस को रिमोट तरीके से लाॅक औऱ वाइप करता है। इसमे जीपीएस की सुविधा भी है।



यह सिक्यूरिटी टूल बहुत कम जगह घेरता है। इसलिए डिवाइस की प्रदर्शन क्षमता यथावत बनी रहती है। यह केवल तीन सेकंड में ही बूट हो जाता है

Tuesday, 14 May 2019

ftp server kaise kaam kerta hai


FTP सर्वर कैसे काम करता है

सामान्य वेब सर्वर के समान इंटरनेट पर FTP सर्वर भी होते है। अनेक संगठन व कंपनियां फाइलों को वितरीत करने के लिए FTP सर्वर को प्रयोग करती है। जब यूजर कुछ डाउनलोड करने के लिए जुड़ता है तो उस FTTP  की अपेक्षा FTP  से जोड़ दिया जाता है। FTP सर्वर को दो भागों में विकसित विभक्त किया गया है।


  1. एनोनिमिअस सर्वर Anonymous server
  2. नाॅन एनोनिमिअस  सर्वर Non Anonymous server  

अत: FTP का सबसे अधिक लोकप्रिय औऱ सामान्य रूप एनोनिमिअस सर्वर है इस सर्वर से जुड़ने व फाइल ट्रांसफर की सेवा के लिए यूजर को कोई पासवर्ड़ की आवश्यकता नहीं पड़ती है। वह केवल अपना ई-मेल एड्रेस का उपयोग करके FTP का कार्य कर सकता है औऱ यदि यूजर नाॅन एनोनिमिअश सर्वर का प्रयोग करता है तो उसे इसमें FTP अधिकार प्राप्त करना , एक सरल प्रक्रिया होती है।



 इस अधिकार को प्राप्त करने के लिए cz.proxy.usr संशोधन किया जाता है जिसमे आप निम्न शब्द टाइप करते है ::ftp=ftpserv.mylib.org इस पंक्ति को टाइप करने के  बाद   ftpserv.mylib.org के स्थान पर वांछित FTP सर्वर के हाॅस्ट का नाम टाइप किया जा सकता है।


जब Ezproxy अधिकार संबंधी आग्रह प्राप्त करता है। तो यह FTP  सर्वर से यूजर के कंप्यूटर को कनेक्ट कर देता हैय़ यदि एफ टी पी (FTP)  सर्वर की लाॅग इन सफलता प्रस्तुत करता है तो दूरस्थ यूजर FTP प्रोटोकाॅल एक क्लाइंटर सर्वर माॅडल पर आधारित प्रणाली है। FTP  प्रयोग के लिए यूजर को स्वयं की पीसी में FTP  सर्वर करना होता है यूजर विंडो एनटी में उपलब्ध FTP  क्लाइंट साॅफ्टवेयर प्रोग्राम का उपयोग कर सकता है


FTP  प्रोटोकाॅल TCP  का उपयोग करके संवाद सफल बनाता है औऱ हाॅस्टों के मध्य कम्युनिकेशन सेशन स्थापित करता है। FTP सर्वर पर FTP डोमेन क्रियाशील रहता है। यह डोेमेन FTP आदान प्रदान को संभालता है जब FTP क्लाइंट सर्वर सम्पर्क स्थापित करता है तो यह डोमेन यूजर से उसका अकाउंट नंबर नाम और पासवर्ड पूछता है

Saturday, 11 May 2019

how to Java file cookie clean


जावा कैश को क्लीयर करना

कंप्यूटर इस्तेमाल करने वाले हम सभी लोग इंटरनेट कैश को समय-2 पर क्लीयर करते रहते हैं ताकि डिस्क स्पेस खाली हो और परफारमेंस सुधर सके।। लेकिन इंटरनेट आँप्शन के डिलीट फाइल आँप्शन में वेबसाइट के जावा प्रोग्राम में इस्तेमाल होने वाले कैश को डिलीट करने का विकल्प नहीं होता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि जावा कैश के कारण आपके सिस्टम का एक जीबी तक का स्पेस घिर सकता है।



 इन अस्थायी फाइल्स को डिलीट करने के लिए स्टार्ट बटन क्लिक करें औऱ फिर कंट्रोल पैनल में जाएं। बायीं ओर क्लासिक व्यू पर क्लिक करें औऱ फिर जावा Icon पर क्लिक् करें। विंडो के सबसे निचले हिस्से में दिए गए सेटिंग पर क्लिक करें औऱ फिर डिलीट फाइल्स पर दोनो आँप्शन को सिलेक्टेड रहने दे औऱ OK क्लिक करें कुछ ही क्षण में फाइल डिलीट हो जाएगी। how to Java file cookie clean


वेब पेज प्रिंट करना

अगर आपका वेब ब्राउजर वेब पेजेज को अच्छे ढंग से प्रिंट नहीं कर पाता है तो हम आपको इसका आसान उपाय बताते हैं। आप पेज का एक स्क्रीन ग्रैब बनाएं औऱ उसे इमेज एडिटर के जरिए प्रिंट कर ले। इसकी खासियत यह है कि आप इसे तभी प्रिंट कर सकते है, जब आप इसे स्क्रीन पर देखेगे। वेब पेजज को करेंट पोजिशन में रख कर आल्ट की पर उंगली रख कर अपने की बोर्ड पर प्रिंट स्क्रीन बटन को दबाएं। अब अपने इमेड एडिटिंग साॅफ्टवेयर पर स्विच करें। वहां पेज को पेस्ट करें औऱ उसका प्रिंट ले ले।

Monday, 6 May 2019

who is best window and mac |कौन सा आपरेटिंग सिस्टम अच्छा है विंडोज मैक


जब करना हो पीसी या मैक में से एक का चुनाव

 

who is best window and mac
who is best window and mac

 

रोजमर्रा की जिंदगी में कंप्यूटर के बढते महत्व के कारण हर कोई कंप्यूटर खरीदने की सोचता है किंतु जो लोग मल्टीलेवल कामों से जुड़े होते है वह उलझन में रहते है कि पीसी खरीदें या मैक वस्तुत यह यूजर की आवश्यकता औऱ कार्यों पर निर्भर करता है कि उसकी जरूरतें कैसे पूरी होंगी यदि दोनों में से बेहतर को लेकर उलझन हैं तो निम्न बातों पर ध्यान दें जिससे आप बेहतर कंप्यूटर का चुनाव कर पाएंगे।


आपरेटिंग सिस्टम - आप जान लें कि पीसी और सिस्टम अलग-अलग विशेषताएं लिए रहता हैं। पीसी विंडो़ज पर चलता हैं औऱ मैक-आँपरेटिंग सिस्टम पर यद्दपि मैक में गलतियों की संभावनाए कम होती है।
किंतु दूसरी ओऱ विंडोज में सर्विस पैक होता है यदि आप सिस्टम की परफोर्मेस को सुधारना चाहो तो इसमे शामिल अपड़ेट से सुधार सकते हैं। दूसरे, पीसी पर यूनिक्स लीनिक्स एवं आँपरेटिंग सिस्टम भी काम कर सकते है।

एप्लीकेशन - पीसी की तुलना में मैक के साॅफ्टवेयर खासतौर पर प्रभावी माने जाते हैं। इमेज और वीडियो प्रोसेसिग के कार्यो में मैक को ही वैल्यूबल माना जाता है और तेज तर्रार भी। किंतु विंडोज में काफी सारे एप्लीकेसन उपलब्ध रहते है जो सुविधा की दृष्टि से उपयुक्त कह जाते हैं। हालांकि कुछ साॅफ्टवेयर दोनो पर चला सकते है।

एक्सेसरीज और डिजायन - मैक में केवल एप्पल द्वारा निर्मित ऐसेसरीज ही उपयोग होती है जो कि कम्पेटिबिलिटी की दृष्टि से थोड़ा परेशान कर सकती है लेकिन मैक का स्लीक और स्टाइलिश डिजायन लोगो को आकर्षित करता है। इसके विपरीत पीसी को कस्टमाइज किया जा सकता है। उस पर कंपोनेंट एड औऱ रिमूव कर सकते हैं अत: अधिकतर लोग इसे ही प्राथमिकता देते है।

सिक्यूरिटी - मैक को पीसी की अपेक्षा ज्यादा सुरक्षित माना जाता है जो मैकवेयर को हावी नहीं होने देता है। जबकि पीसी पर नेट चलाना हो तो अपडे़ट हो सकने वाला एंटीवायरस इंस्टाॅल करवाना पड़ेगा। क्योकिं हैकर्स औऱ साइबर क्रिमिनल पीसी ही अपना निशान बनाते है।

कीमत - मैक की कीमत ज्यादा होती है औऱ इसके मुकाबले पीसी काफी सस्ता पड़ता है 

Saturday, 27 April 2019

कंप्यूटर स्ट्रेस कम करने के आसान तरीके computer strees tip


आज के समय कंप्यूटर के बिना काम की कल्पना नहीं की जा सकती। कभी कार्यालयो में भी मुश्किल से दिखने वाला कंप्यूटर अब लोगो के घरो तक पहुंच गया है। 


कुछ लोगों के काम तो ऐसे है, कि उन्हें पूरा दिन कंप्यूटर पर ही बिताना पड़ता है। ऐसे में उन्हें लम्बे समय तक कंप्यूटर पर अंगुलियो व आखो के काम करना पड़ता है औऱ लगातार की गई यह मेहनत आंखो, गर्दन व शरीर के दूसरे हिस्सो में थकान की वजह बनती है। 


अगर इसकी अनदेखी की जाए तो यह समय्या बड़ी भी बन सकती है। इसके समाधान के लिए किसी भी स्थान पर कंप्यूटर का काम करते समय छोटी-छोटी एक्सरसाइज करना बेहद फायदेमंद रहता है। 


जिससे अंगुलियो व आंखो की तनाव समाप्त होता है औऱ काम करने की क्षमता भी प्रभावित नहीं होती। इसके लिए दोनो हाथो को रगड़े और आंखो को बंद आंखो को खोलकर आई बाल्स को चारो दिशाओ में घुमाए। 


फिर आंखे बंद कर गहरी सांस ले और रिलेक्स करें। चेयर पर बैठे-बैठे ही अपने हाथो को सामने की ओर कंधे के बराबर ले आएं। दोनो हथेली को नीचे की ओर रखते हुए मुठ्ठी बना ले। 


ध्यान रहे अंगूठा अदर की ओर रखे। अब दोनो हथेलिओ को घुमाइएं। दोनो हथेलिओं को दोनो दिशाओं में बारी-बारी से घुमाएं। सांस सामान्य रखे। यह अभ्यास पांच-पांच मिनट तक दिन में कई बार कर सकते है।

 computer strees tip
 इससे अंगुलियों और हाथों को तनाव खत्म हो जाएगा। इस छोटे से उपाय से सम्बन्धित व्यक्ति अपने कंप्यूटर पर काम के दौरान अक्सर होने वाले तनाव और समस्याओं से निजात पर सकता है।