Article Post

मंगलवार, 22 जनवरी 2019

जब कंप्यूटर बार-बार हैंग होने लगे | When the computer hangs frequently

अकसर कंप्यूटर का बार-बार हैंग यूजर को बहुत ज्यादा परेशान करता है। ऐसा कई कारणो से होता है जिनमें से कुछ आपको पता भी होते है किंतु आप फिर भी उनसे अंजान रहते है। यदि आप नीचे लिखी बातो का ध्यान रखे तो अपने कंप्यूटर को हैंग होने से बचा सकते है।
  • आपको ध्यान रहे कि कंप्यूटर पाॅवर  सोर्स से चलता है, हो सकता है कि पाॅवर कंप्यूटर सोर्स प्लग या वायरिंग आदि में कोई समस्या हो तो सबसे पहले पाॅवर सोर्स की जांच करें खासकर अर्थिग का।
  • कंप्यूटर में हमेशा ब्रांडेंट डिवाइसेस का उपयोग करें।
  • कंप्यूटर का फैन उसे कूल बनायें रखता है और उसमें पैदा होने वाली हीट को बाहर फेकता है। अकसर धूल मिट्टी इस जाम करके हीट होने का खतरा पैदा करती है जो शार्टसक्रिट का कारण बन सकती है। इसलिए इसे ठंडा रखने के लिए नियमित सर्विसिंग से इसकी साफ-सफाई करते रहे।
  • चूकिं कंप्यूटर के सीपीयू में प्रोसेसर, हार्डडिस्क, मदरबोर्ड और रैम आदि होते है जिसके ढीला होने पर भी कंप्यूटर बार-बार हैंग होता रहता है। इसलिए इन्हें एक्सपर्ट से नियमित रूप से चैक करवाते रहे आदि फिर भी कोई पार्ट परेशानी पैदा करे तो उस बदल दें।
  • अकसर कंप्यूटर के प्रोसेसर का फैन बंद होने से भी प्रोसेसर गर्म होने लगता है जिस ठीक करवाना जरूरी होता है।
  • कई बार किसी साॅफ्टवेयर के कारण भी यह हैंग होता है इसलिए कंप्यूटर को आॅन करते ही विंडो स्क्रीन आने पर तुरंत FM key दबा करें। इससे menu आपके सामने आ जायेगा  जिसमे से safe mode को चुने तो आपकी विंडो सेफ मोड में ही बूट होगी।
  • इसके उपरांत सबसे पहले Start पर क्लिक करके Run में जाएं msconfig टाइप करें। इससे आपके सामने system configuration utility box खुल जाएगा। इसमे general tab me diagnostic startup load basic device and drivers only पर क्लिक कर देें और OK दबाएं।
  • अब कंप्यूटर को restart करें जिसके बाद कंप्यूटर लेवल basic software components को ही लोड करेगा। कंप्यूटर को थोडी देर तक चलाने के बाद देखे कि वह ठीक चल रहा है कि नहीं।
  • यदि कंप्यूटर अब भी हैंग हो रहा हो तो आपको windows os दोबारा लोड करवाना पडेगा। किंतु ऐसा करने से पहले सारे डाटा का backup अवश्य ले लें।
लेकिन यदि यह boot होने के बाद हैंग नहीं होता तो समझ ले कि किसी साॅफ्टवेयर ड्राइवर या एप्लीकेशन के कारण ये हैंग होता है। अब  आप को किसी विशेषज्ञ की मदद लेकर इसकी जांच करवानी होगी और मूल कारण का पता लगाना होगा।


System boot
System boot

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

In Feed