Article Post

गुरुवार, 21 मार्च 2019

kya kam neend aane se ja sakti hai apki jobs क्या कम नींद आने से जा सकती है आपकी नौकरी

कम नींद लेने से सेहत खराब होती है यह सबको पता है, लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ है कि कम नींद आपकी नौकरी जाने का कारण बन सकती है? शोधकर्ताओ के मुताबिक, कम नींत लेना काम करने की क्षमता, एकग्रता और याददाश्त पर प्रतिकूल असर डालती है।



 मैरिलैड स्थित कोलंबिया के हाॅवर्ड काउंटी सेंटर फाॅर लंग एंड स्लीप मेडिसिन के निदेशक इमर्सन विकवायर ने कहा, कम नींद काम करने की क्षमता पर नाटकीय रूप से प्रभाव डालती है। नींद की इस कमी को सप्ताह में एक दिन की छुट्टी से पूरा नही किया जा सकता समाचार वेबसाइट हफिंग्टन पोस्ट ने कैलिफोर्निया स्थित फ्रेमोंट वर्मा के हवाले से कहा, ऐसे लोगो के मन में हमेशा यह डर बना रहता है कि उनसे ज्यादा जवान और स्फूर्तिवान कोई व्यक्ति उनकी नौकरी ले लेना या उनकी जगह ऐसे ही किसी व्यक्ति की पदोन्नति हो जाएगी।



 20-20 आयुवर्ग ले लोग रात में नींद न आने की समस्या से ग्रस्त होते है। वर्मा ने कहा, चूंकि उनकी नाइट लाइफ ज्यादा व्यस्त होती है, जिसके कारण वे बमुश्किल चार-पाॅंच घंटे की नींद पूरी कर पाते है। शोधकर्ताओ के मुताबिक, नींद पूरी न हो पाने के कई कारण है। 


कुछ लोग तनाव के कारण, तो कुछ नींद न आने की बीमारी के कारण नींद पूरी नही कर पाते। विकवायर कहते हैं, चूंकि हमे एडिनोसाइन (नींद लाने वाला रसायन) की आदत पड चुकी है इसलिए ऐसी हालत में हमारे द्वारा गलत निर्णय लेने पर भी हमे लगता है कि सबकुछ सही है।



 कार्यक्षमता में कमी और डिप्रेशन इसके सामान्य लक्षण है। विकवायर कहते है कि इन लक्षणों से छुटकारा पाने के लिेए किसी भी कीमत पर आठ घंटे नींद जरूर लें।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

In Feed