Article Post

रविवार, 11 अगस्त 2019

क्या करें जब आपका Email हैक हो जाए - email hack ho jaye to kya kare


क्या करें जब आपका Email हैक हो जाए

 

email hack ho jaye to kya kare
email hack ho jaye to kya kare

 

हाल में तेजी से बढ़ाते हुए साइबर क्राइम की घटनाओं में Email का हैक होना अब कोई बड़ी बात नहीं मानी जाती है। किंतु प्राइवेसी तथा सिक्यूरिटी में सेध के परिणामस्वरूप उत्पन्न संकटो को ध्यान में रखते हुए ईमेल का हैक होना खतरे से खाली नहीं होता है।


क्योंकि यह Email यूजर को कई तरह से नुकसान पहुंचा सकता है। सबसे बड़ा नुकसान तब होता है जब अतिसंवेदनशील एवं प्राइवेट जानकारियों में सेंध लगाकर वित्तीय घोटालों के वारदातों तो अंजाम दिया जाता है।


यह कैसे जानें कि आपका Email हैक हो चुका है?

 

यदि आपके Email के साथ निम्न समस्याएं आ रही हों तो यह मानिए कि आपका ईमेल हैक हो चुका है
  • यदि आपके Email अकाउंट का प्रोफाइल इनफार्मेशन बदला हुआ है।
  • यदि आपके ईमेल अकाउंट से स्पैम मेल भेजा जा रहा हो और इसके माध्यम से एडवरटाइजिग का काम किया जा रहा हो।
  • आपके इनबाॅक्स में आपके पुराने मेल्स न तो रिसीव हो रहे और ना ही उनका कोई पता लग रहा है।
  • यदि आपके द्वारा भेजे गये मेल्स बार बार फेल्ड डिलीवरी मेसेज दिखा रहे हो।
  • आपके सेंट फोल्डर में यदि ऐसे भी मेसेज शो हो रहे हैं जिन्हें आपने कभी मेल ही नहीं किया है।
  • आपके इनबाॅक्स में मेसेज किसी विदेशी भाषा या उस भाषा में है जिसे आप सामान्यता नहीं जानते हैं और जिस भाषा में आपने कभी ्पने किसी कांटेक्ट एड्रेस को मेल सेंड नहीं किया है।
  • आपके फ्रेंड के पास आपके ईमेल से फर्जी मेल हो रहे हैं।
  • कभी -2 आपके बैंक अकाउंट से भारी मात्रा में पैसे की निकासी हो सकती है।
  • किसी Online शाॅपिंग कम्पनी से आपके पास बकायें राशि के भुगतान के लिए मेसेज आ सकता है।
  • आपका Online पासवर्ड अचानक बदल सकता है।

क्या करें जबकि आपका Email अकाउंंट हैक हो जाएं? 

 

Email अकाउंट की चोरी या हैकिंग होने पर उस अकाउंट को न केवल रिकवर किया जा सकता है बल्कि ऐसे तकनीकी उपाय किये जा सकते हैं ताकि भविष्य में इस प्रकार के धोखाधड़ी से बचा भी जा सकता है। सबसे पहले तो आप अपने ईमेल अकाउंट को अपने मेल प्रोवाइडर वेबसाइट के माध्यम से लाॅग इन करिए।

यदि इस प्रकार से आपको परेशा होने की जरूरत नहीं हैं किंतु यदि इस प्रकार से आपका मेल अकाउंट ओपेन नहीं होता तो निश्चित मानियें कि हैकर्स ने आपके मेल अकाउंट का पासवर्ड चेज कर दिया है फिर हैक्ड अकाउंड की रिकवरी की समस्या के समाधान के लिए हम निम्नलिखित उपाय कर सकते है-

Email  सर्विस प्रोवाइडर की सर्विस की हेल्प लें

 

आपने जिस सर्विस प्रोवाइडर पर अपने ईमेल अकाउंट किये है उसके वेबसाइट पर जाकर आई फाॅरगाॅट माई पासवर्ड आप्शन पर क्लिक करें। आपका सर्विस प्रोवाइडर आपको दूसरे वैकल्पिक ईमेल एड्रैस मेल पर करेंगा। इसके साथ ही यह सर्विस प्रोवाइडर आपको सीक्रेट क्वेश्चंस का भी आप्शन मेल करेगा जिसे कि आपने अकाउंट ओपनिंग के साथ रजिस्टर्ड किया था।



 आपको उन सीक्रेट क्वेस्चंस के जवाब देना होता है।  यदि इस मेथड से भी आप अपने अकाउंट को ओपन करने में सफल नहीं हो पाते हैं और आपका अकाउंट रिकवर नहीं हो पाता है तो इसका अर्थ यह है कि हैकर्स ने आपके सभी रिकवरी इनफार्मेशन को चेंज कर दिया है। ऐसी स्थिति ें हैकर्स आपके ओल्टरनेट email अकाउंट को बदल सकता है और सीक्रेट क्वेशचंस के आंसर को भी चेंज कर सकता है।


 अपने Email अकाउंट का पासवर्ड चेंज करें

 

यदि रिकवरी आप्शन के माध्यम से आपका अकाउंट ओपन हो जाता है तो आप सबसे पहले अपने मेल अकाउंट का पासवर्ड चेंज कर लें। पासवर्ड के बारे में एक सामान्य -सा सिद्धान्त यह है कि पासवर्ड याद रखने में आसान, अनुसार लगाने में मुश्किल और साइज में बड़ा होगा उतना ही सिक्योर आपका मेल अकाउंट और पीसी होगाकोई भी पासवर्ड 10 letter के पासवर्ड सिक्यूरिटी की दृष्टि से काफी सिक्योर्ड और स्ट्रोग माने जाते है।




 फिर ऐसा भी माना जाता है कि यदि पासवर्ड में लैटर के साथ कुछ Number and alphabet का यूज किया जाएं यह काफी स्ट्रोग होता है जो कि किसी हैकर्स के द्वारा गेस करना आसान नहीं होता है। अंडरस्कोर के साथ सुपरसक्राइब ऐपरसेंड एट दि रेट इत्यादि अन्य संकेतो का भी इस्तेमाल करना बेहतर माना जाता है।


ताकि आपका email हैक न हो पाए 

 

  • हमेशा  लम्बे पासवर्ड का प्रयोग करें।
  • अपने पासवर्ड को कभी भी किसी के साथ शेयर नही करें।
  • किसी तरह की धोखाधड़ी वाली स्थिति में अपने पासवर्ड कभी भी शेयर नही करें। मेल यूजर के इनबाक्स में गिफ्ट और कैश प्राइज जीते जाने के कई फर्जी मेल्स आना आम बात हो गयी है और इसके बहाने से हैकर आपके बैंक अकाउंट और पासवर्ड की मांग करते है।
  • जिस ईमेल के आडरटिटी के बारे आप निश्चित नहीं है तो ऐसे ईमेल इनबाॅक्स को कभी भी क्लिक नहीं करें क्योकि एडवाॅस्ड टेक्नोलाॅजी के माध्यम से वे यूजर के ईमेल अकाउंट कोह हैक कर सकते है और प्राइवेट इनफार्मेशन में सेध लगाकर आपको धोखा का शिकार बना सकते हैं।
  • यदि किसी ईमेल यूजर के द्वारा वाई-फाई इस्तेमाल किया जा रहा हो तो इसके बारे में भी कफी सावधानी बरतने की जरूरत है।
  • अपने पीसी औऱ लैपटाॅप और साॅफ्टवेयर को अपटूडेट रखे और साथ ही लेटेस्ट एंटी - मैलवेयर टूल्स के यूज से इन्हे क्लीन रखे।  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

In Feed