Article Post

रविवार, 22 सितंबर 2019

Digital विंडोज में F1 - F12 कीज के आम उपयोग | functions key का use कैसे करें

Function of key of keyboard
Function of key of keyboard

 निसंदेह अधिकतर यूजर्स काफी लंबे समय से विंडोज का उपयोग कर रहे हैं किंतु उनमें से ज्यादातर कीबोर्ड के F1 से F12 कीज के फीचर्स से भलीभांति परिचित नहीं होगे जो एक महत्वपूर्ण शार्टकट काॅम्बीनेशन साबित होते हैं और Ctrl और Alt के साथ मिलकर काम करते हैं।

 F1 के उपयोग

 यह कीज हर जगह हेल्प (Help) के लिए उपयोगी होती है। यदि आप विंडोज ओएस उपयोग कर रहे हो और कहीं भी कुछ मदद चाहिए तो F1 दबाएं तो आपकी मदद के लिए एक विंडोज खोलती है।

कभी -2 F1 की बायोस को एंटर करने के लिए उपयोगी होती है (तो जब कंप्यूटर बूट होने वाला हो F1 दबाएं)
win+F1 कीज् को एक साथ दबाएं तो यह Help and support> microsoft window को खोलेगा।

F2 के उपयोग

यह विंडोज की सभी अनुकूलताओं में काम करती है खासतौर पर चुने हुए फोल्डर या फाइल को तेजी से रिनेम करती है। Alt+Ctrl+F2 माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड के रूप में डाॅक्यूमेंट ओपन करती है।

F3 के उपयोग

MS DOS चार्ज लाइन या विंडोज में अंतिम बुलावे को rehash करने के लिए। Win+F3 माइक्रोसाॅफ्ट आउटलुट में Advanced Search window ओपन करती है।
शिफ्ट +F3 माइक्रोसाॅप्ट वर्ड में कंटेट बदलती है हर एक्सप्रेशन के शुरू होने पर अपरकेस से Lower या Capital letter करती है।

F4 का उपयोग

यदि आप विंडोज एक्सप्लोरर और इंटरनेट explorer में F4 दबाएं तो यह location bar को ओपन करती है तथा एमएस वर्ड में अंतिम क्रिया को रीहैश करती है।

F5 का उपयोग करना

खुले पेज को refresh करती है और सभी एडवांस प्रोग्राम में काम करती है तथा डेस्कटाॅप को रीडिजाइन करती है या विंडोज में आर्गेनाइजर ओपन करती है।

F6 का Use कैसे करें

लोकेशन बार में कर्सर मूव करती है (साथ ही कई एडवांस प्रोग्राम में काम करती है) Ctrl+Shift+F6  माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड में डाॅक्यूमेंट ओपन करती है।

F7 का यूज

माइक्रोसाॅफ्ट के वर्ड, आउटलुक आदि डाॅक्यूमेंट प्रोग्राम में स्पेलिंग और ग्रामर के लिए अधिकतर उपयोग होती है।

F8  का प्रयोग

Microsoft PC के बूट होते समय F8 को दबाने से पीसी सेफ मोड (safe mode) में बूट होगा।

F9 का उपयोग

विंडोज में  हालांकि इसका कोई उपयोग नहीं परंतु यह कुछ अलग अलग प्रोग्रम्स में उपयोग की जा सकती है। यह जानने के लिए क्या यह उपयोग किए जा रहे प्रोग्राम में मौजूद है प्रोग्राम की हेल्प लाएं और वर्ड फंक्शन की ये टाइप करें।

F10 का उपयोग

खुले हुए आर्गेनाइजर विंडो में मेन्यू एक्टिवेट करती है Shift+F10 ठीक वैसे ही काम करती है जैसे माउस का राइट क्लिक काम करता है।
पीसी के बूटिंग के दौरान F10 को दबाने से बायोस इनफाॅरमेशन दिखाई देगी।

 F11 का उपयोग

यह आपको फुल स्क्रीन मोड मे ले जाएगी और किसी भी ब्राउजर में काम कर सकती है।

F12 का उपयोग

माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड में सेव एस को ओपन करती है। Shift+F12 माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड में डाॅक्यूमेंट सेव करती है। Ctrl+Shift+F12 माइक्रोसाॅफ्ट वर्ड में डाॅक्यूमेंट प्रिंट करती है। यह किसी भी ब्राउजर में inspect element box को ओपन करती है। ध्यान दें कि Fn से लेकर F12 कीज लैपटाॅप में वही कार्य करती है जो उनकी कीज पर बनी होते है।

 Digital फाइल बैकअप के उपयोगी टिप्स


आज हर कार्यक्षेत्र औऱ हर व्यक्ति किसी न किसी रूप में कंप्यूटर पर निर्भर है औऱ यही कारण है कि डाटा की मात्रा भी तेजी से बढ़ रही है और साथ ही उन्हें मैनेज करने की समस्या भी क्योंकि डाटा का सुरक्षित स्टोरेज और बैकअप रखना चुनौतीपूर्ण होता है औऱ इसलिए यूजर्स फाइल स्टोरेज के नए उपाय खोजते हैं। ऐेसे ही चार तरीकों में से आप कोई भी अपना सकते हैं।

यूएसबी स्टोरेज

 यह ज्यादा पाइलों को स्टोर करने का एक सर्वाधिक सरल और आसान तरीका है चाहें उन्हें रखने की बात हो या बैकअप की य़ूएसबी स्टोरेज डिवाइस कई साइज में मिलती है औऱ उनमें उसके आकार के अनुसार ही डाटा स्टोरेज किया जाता है। विशेषकर महत्वपूर्ण फाइलों को सुरक्षित रखने में यह काफी कारगर हैं। हालाकिं यूएसबी के खोने और टूटने का खतरा भी बना रहता हैं।

 

क्लाउड कंप्यूटिंग 

 यह टेक्नोलाॅजी में एक नया स्टोरेज सिस्टम है। कई प्रोवाइडर और कंपनियां ये सुविधा उपलब्ध कराती है जैसे की sharefile आदि। क्लाउड कंप्यूटिंग कई लाभ भी देती है लेकिन ज्यादा डाटा के बैकअप औऱ स्टोरेज के लिए यह बहुत अलग उपाय प्रदान करती है। वैसे तो आप क्लाउड पर कोई भी फाइल सेव कर सकते हैं जहां से इस इंटरनेट किया जा सकता है। दूसरे शब्दों में इस डिजिटल रूप में मौजूद यूएसबी ड्राइव कहा जा सकता है।

ईमेल बैकअप

यदि आप डिजिटल बैकअप डिवाइस नहीं खरीदना चाहते हैं तो क्लाउड स्टोरेज की तरह ही अपने ईमेल पर फाइल स्टोर कर सकते है। आपकी कभी कभी बैकअप की जरूरत पड़ती हो और आपको कंप्यूटर की भी महत्वपूर्ण फाइलो को स्वय्ं को ही ईमेल कर सकत हैं औऱ आपका कंप्यूटर यदि फेल भी हो जाएं तो भी आप उसे ईमेल स्टोरेज से एक्सेस कर पाएंगे।  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

In Feed